इस गांव के लोगों के गले की हड्‌डी बन गया है ‘राफेल’, ये बातें कहकर पड़ोसी गांव लेते हैं मजे

Breaking News

नई दिल्ली। भारत में आजकल रफाल ( Rafale deal ) सबसे गर्म मुद्दा बना हुआ है। राजनीतिक पार्टियां एक दूसरे पर राफेल के मुद्दे पर आए दिन आरोप-प्रत्यारोप लगा रही हैं। आपको जानकर हैरानी होगी कि छत्तीसगढ़ ( Chhattisgarh ) में एक गांव है जिसका नाम 'राफेल' है।

बेजुबान पक्षियों के लिए किसी मसीहा से कम नहीं है ये शख्स, इस काम के लिए खर्च कर चुके हैं 6 लाख रुपए

छत्तीसगढ़ के महासमुंद से करीब 135 किलोमीटर दूर बसे इस गांव के लोग अब अपने गांव के नाम से तंग आ गए हैं। भारतीय राजनीति में जहां ये मुद्दा गर्म है वहीं इस गांव के आस-पास बसे बाकी गांव 'राफेल' में रहने लोगों की रफाल केस के नाम पर ही चुटकी लेते हैं। कुछ लोग राफेल गांव में रहने वाले लोगों को कहते हैं कि 'मोदी सरकार चली गई तो कांग्रेस की सरकार यहां के लोगों को जेल में डाल देगी।'

कभी सैफई महोत्सव में गाना गाती थीं अपर्णा यादव, ऐसे बनीं मुलायम सिंह यादव की बहू

chhattisgarh village named rafael

एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, छत्तीसगढ़ से काफी दूर बसे इस गांव की सुध लेने कोई नेता यहां नहीं आता। रफाल गांव में लोकसभा चुनाव 2019 के दूसरे चरण में वोट डाले जाएंगे। लेकिन यहां के लोगों की मानें तो अभी तक न तो बीजेपी और न ही कांग्रेस का कोई नेता यहां चुनाव प्रचार के लिए आया है। जानकारी के लिए बता दें कि इस गांव में वर्त्तमान में लगभग 150 परिवार रहते हैं।

मायावती की पार्टी की दौलत के बारे में जानकर बड़े-बड़े अरबपतियों का चकरा जाएगा सिर

rafael people are annoyed

यहां के किसान अभी भी बारिश के भरोसे खेती करते हैं। ऐसे में किसान परिवारों को किसानी छोड़ मजदूरी के लिए बाहर जाना पड़ रहा है। पहले रायपुर जिले में पड़ने वाले इस गांव के लोगों की कोई खास मांग नहीं है। वे कहते हैं कि 'उन्हें केवल सिंचाई की व्यवस्था चाहिए बाकी कौन देश का प्रधानमंत्री बनेगा हमें कोई मतलब नहीं है।'

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *