इस हफ्ते विदेशी निवेशकों से झूमा शेयर बाजार, चार लाख करोड़ रुपए का फायदा

Breaking News Business

नई दिल्ली। चुनावों की तारीखों के ऐलान होने के बाद विदेशी निवेशकों का रुझान बढऩे से देश के शेयर बाजार में बीते पांचों कारोबारी दिनों में खूब फायदा हुआ है। ऐसा कोई दिन नहीं रहा जब देश के शेयर बाजार लाल निशान पर खुला या बंद हुआ हो। शुक्रवार को तो सेंसेक्स ने 38 हजार के आंकड़े को पार कर गया। शेयर बाजार के झूमने का सबसे बड़ा कारण विदेश निवेशकों का बढ़ता हुआ निवेश था। जिसकी वजह से बैंक निफ्टी अपने ऑल टाइम बढ़त पर रहा। आंकड़ों की मानें तो इस हफ्ते देश के लोगों को शेयर बाजार से करीब 4 लाख करोड़ रुपए का फायदा हुआ।

सेंसेक्स ने छुआ 38 हजार का आंकड़ा
शुक्रवार को जब शेयर बाजार बंद हुआ तो बांबे स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 38,024.32 अंकों पर बंद हुआ। खास बात से है कि सेंसेक्स पांचों कारोबारी दिनों में बेहतरीन प्रदर्शन किया। सेेंसेक्स पूरे हफ्ते में 3.6 फीसदी की ग्रोथ हासिल की। कुछ ऐसा ही हाल निफ्टी का भी देखने को मिला है। शुक्रवार को नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख सूचकांक निफ्टी 83.60 अंकों की बढ़त के साथ 11,426.85 अंकों पर बंद हुआ। पांचों दिनों में निफ्टी ने 3.5 फीसदी की बढ़त हासिल की। जबकि निवेशकों के निवेश से बैंक निफ्टी भी ऑल टाइम हिट पर रहा। बैंक निफ्टी ने 5.8 फीसदी की बढ़त हासिल की है।

मजबूत सरकार की उम्मीद और विदेशी निवेशकों का रुझान
शेयर बाजार में तेजी के ग्रो करने के दो मुख्य कारण है। पहला भारत में चुनावों की तारीखों का ऐलान होने से मजबूत सरकार बनने की उम्मीदें दूसरा विदेशी निवेशकों का भारतीय बाजारों में बढ़ता निवेश। जानकारों की मानें तो अमरीकी ब्याज के बढऩे के खतरे से उबरते हुए विदेशी निवेशकों ने भारत में अपना पैसा लगाया है। जिसका असर यह हुआ है कि शेयर बाजार में ग्रोथ देखने को मिली है। भारतीय निवेशकों के पास ऐसे समय में शेयर बाजार में निवेश करने का अच्छा मौका है।

करीब चार लाख करोड़ रुपए का फायदा
इस बढ़त की वजह से देश की कंपनियों के शेयरों की वैल्युवेशन में करीब 4 लाख करोड़ रुपए बढ़ा है। इसका मतलब ये हुआ कि शेयरों में रुपया लगाने वालों को चार लाख करोड़ रुपए का फायदा हुआ है। आंकड़ों की मानें तो पिछले सप्ताह के शुक्रवार यानि 8 मार्च को सेंसेक्स का मार्केट कैप 1,44,67,087.91 करोड़ रुपए था। जो 15 मार्च 2019 को बढ़कर 1,48,62,388.50 करोड़ रुपए हो गया। इसका तलब ये हुआ कि शेयर बाजार को 3.95 लाख करोड़ रुपए का फायदा हुआ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *