इंडोनेशिया में आम चुनाव के लिए बुधवार को डाले जाएंगे वोट, राष्ट्रपति जोकोवी के वापसी के आसार

Breaking News

जकार्ता। भारत में जहां आम चुनाव के लिए मतदान 11 अप्रैल से शुरु हो गया है वहीं दक्षिण-पूर्वी एशियाई देश इंडोनेशिया में बुधवार को आम चुनाव के लिए वोट डाले जाएंगे। इस बार 193 मिलियन मतदाता नई सरकार चुनने के लिए अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। मतदान के लिए आठ लाख से अधिक पोलिंग स्टेशन बनाए गए हैं। पूरी दुनिया के चुनाव पर बारीकी से नजर रखने वाले कुछ विशेषज्ञों का मानना है कि एक दिन में होने वाला इंडोनेशिया का यह चुनाव दुनिया का सबसे बड़ा चुनाव है। ऑस्ट्रेलियाई थिंक टैंक लोवी इंस्टीट्यूट में दक्षिण-पूर्व एशिया परियोजना के निदेशक बेन ब्लैंड ने कहा है कि इंडोनेशिया की चुनावी प्रक्रिया का पैमाना एक साथ पांच अलग-अलग चुनावों को कराना बहुत ही शानदार है। उन्होंने आगे कहा कि भारत जो कि दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र है, वहां पर अप्रैल और मई महीने के बीच 6 सप्ताह में आम चुनाव कराए जा रहे हैं। भारत में पिछले गुरुवार को ही आम चुनाव के लिए पहले फेज का मतदान संपन्न हुआ है। अमरीकी ब्यूरो के अनुसार, दक्षिण पूर्व एशियाई देश 1.31 बिलियन जनसंख्या के आधार पर दूसरा सबसे प्रसिद्ध देश है। इसमें से इंडोनेशिया 264.3 मिलियन जनसंख्या के साथ दुनिया का चौथा देश है जो कि 17,000 द्वीपों में फैला हुआ है।

सेना के नाम पर वोट मांगने से भड़के पूर्व सैनिकों ने राष्ट्रपति को लिखी चिट्ठी, राष्ट्रपति भवन का इनकार!

राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति समेत अन्य सदस्यों के चुनाव के लिए होगा मतदान

बता दें कि इंडोनेशिया में मतदाता पांच बार अलग-अलग सदस्यों के चुनाव के लिए मतदान करेंगे।

- राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति के चुनाव के लिए मतदान

- रिप्रजेंटेटिव काउंसिल या इंडोनेशिया के हाउस ऑफ रिप्रजेंटेटिव के 575 सदस्यों के चुनाव के लिए मतदान

- क्षेत्रीय रिप्रजेंटेटिव काउंसिल या सीनेट के 136 सदस्यों के चुनाव के लिए मतदान

- प्रांतीय विधायिका के 2000 से अधिक सीटों के लिए मतदान

- जिला और सिटी काउंसिल के 18,000 सीटों के लिए मतदान

राष्ट्रपति चुनाव के लिए मीडिया और लोगों में चर्चाएं जोरों पर हैं। ओपिनियन पोल के मुताबिक राष्ट्रपति जोको विडोडो जो कि जोकोवी के नाम से भी प्रसिद्ध हैं, उम्मीद है कि वे प्रभावो सबिएंटो पर विजय प्राप्त कर फिर से वापसी करेंगे। 2014 में दो ही प्रत्याशी राष्ट्रपति चुनाव के दौड़ में शामिल थे। इंडोनेशियाई डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ स्ट्रगल (PDIP) की अगुवाई वाली गठबंधन भी इस चुनाव में बहुत मजबूत दिखाई दे रहा है।

 

Read the Latest World News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi पत्रिका डॉट कॉम पर. विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *